Current Affair 7th March 2019

प्रणय कुमार वर्मा वियतनाम के समाजवादी गणराज्य में भारत के अगले राजदूत

श्री प्रणय कुमार वर्मा को वियतनाम के समाजवादी गणराज्य में भारत के अगले राजदूत के रूप में नियुक्त किया गया है। श्री प्रणय कुमार वर्मा 1994 बैच के आईएफएस अधिकारी हैं।

स्वच्छ-सर्वेक्षण पुरस्कार 2019 प्रदान किए गए

नई दिल्ली में विज्ञान भवन में आयोजित स्वच्छ सर्वेक्षण पुरस्कार समारोह में राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद ने 2019 के लिए  स्वच्छ- मासर्वेक्षण पुरस्कार प्रदान किये। सबसे स्वच्छ राजधानी के रूप में भोपाल को सम्मानित किया गया जबकि नमि गंगे अभियान में सबसे स्वच्छ गंगा शहर गौचर रहा। बेस्ट परफार्मिंग स्टेट में छत्तीसगढ़ अव्वल और झारखंड दूसरे नंबर पर रहा एवं महाराष्ट्र तीसरे स्‍थान पर रहा। इंदौर सबसे स्वच्छ शहर रहा। 10 लाख से अधिक आबादी वाले शहरों में अहमदाबाद पहले पायदान पर रहा। 3-10 लाख आबादी वाले शहरों में उज्जैन ने मारी बाजी और 1-3 लाख आबादी वाले शहरों में एनडीएमसी दिल्ली ने अपना परचम लहराया।

हाफिज सईद के आतंकी संगठन पर पाकिस्‍तान ने लगाया प्रतिबंध

भारत के बढ़ते राजनयिक दवाब के बाद और आतंकवाद पर चौतरफा घिरे पाकिस्तान ने अंतत: हाफिज सईद के आतंकी संगठन जमात-उद-दावा और उसके सहयोगी संगठन फलाह-ए-इंसानियत फाउंडेशन को प्रतिबंधित कर दिया है। यह कार्यवाही पाकिस्तान के आंतरिक मामलों के मंत्रालय ने आतंकवाद विरोधी अधिनियम-1997 के तहत की गई है।

दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों में गुड़गांव टॉप पर

आईक्‍यू एयरविजुअल और ग्रीनपीस की रिपोर्ट के अनुसार गुड़गॉंव दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों में टॉप पर है। वहीं दुनिया के टॉप – 10 प्रदूषित शहरों में 7 शहर भारत के हैं और टॉप – 5 में 4 शहर भारत के हैं।

      रैंक               शहर

  1.     गुड़गांव, हरियाणा
  2.     गाजियाबाद, उत्‍तरप्रदेश
  3.     फैसलाबाद, पाकिस्‍तान
  4.     फरीदाबाद, हरियाणा
  5.     भिवाड़ी, राजस्‍थान
  6.     नोएडा, उत्‍तरप्रदेश
  7.     पटना, बिहार
  8.     होतान, चीन
  9.     लखनऊ, उत्‍तरप्रदेश
  10.     लाहौर, पाकिस्‍तान

तमिलनाडु के कांचीपुरम में विकास परियोजनाओं का लोकार्पण

पीएम मोदी ने कांचीपुरम में विकास परियोजनाओं का लोकार्पण किया। उन्होंने सड़क, रेलवे और ऊर्जा क्षेत्र की विविध परियोजनाओं का शुभारंभ किया। प्रधानमंत्री ने राष्‍ट्रीय राजमार्ग संख्‍या-45सी के विक्रवंदी-सेतियातोप्‍पु खंड, सेतियातोप्‍पु-चोलापुरम खंड और चोलापुरम- तंजावुर खंड को चार लेन का बनाने की आधारशिला रखी। उन्होंने राष्‍ट्रीय राजमार्ग संख्‍या-4 के करिपेट्टई-वालजापेट खंड को भी छह लेन का बनाने की आधारशिला रखी। पीएम मोदी ने राष्‍ट्रीय राजमार्ग संख्‍या -234 को मजबूत बनाने के लिए, वाहन मार्ग और पुलियों के चौड़ीकरण और सुदृढ़ीकरण की आधारशिला रखी। उन्होंने राष्‍ट्रीय राजमार्ग संख्‍या-381 के चार लेन के अविनाशी-तिरुपुर-अविनाशीपलयम खंड और सुदृढ़ीकृत वाहन मार्ग को भी राष्ट्र को समर्पित किया। इसके साथ ही पीएम मोदी ने इरोड-करूर-तिरुचिरापल्ली और सलेम-करूर-डिंडीगुल रेलवे लाइनों के विद्युतीकरण को राष्ट्र को समर्पित किया। प्रधानमंत्री ने एन्नोर एलएनजी टर्मिनल राष्ट्र को समर्पित किया। इसके अलावा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो लिंक के जरिए चेन्नई में डॉ. एमजीआर जानकी कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड साइंस फॉर वुमन में डॉ. एमजी रामचंद्रन की प्रतिमा का अनावरण किया। पीएम मोदी ने कहा कि चेन्नई सेंट्रल का नाम डॉ. एमजी रामचंद्रन के नाम पर रखा जाएगा।

कर्नाटक के कलबुर्गी को विकास परियोजनाओं की सौगात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दक्षिण भारत में कर्नाटक के कलबुर्गी में राज्य को लगभग एक हज़ार करोड़ रुपए की परियोजनाओं की सौगात दी। कर्नाटक की जनता को सीधा फायदा पहुंचाने के लिए ऊर्जा, स्‍वास्‍थ्‍य और शिक्षा जैसे विभिन्‍न क्षेत्रों की विकास परियोजनाओं का शुभारंभ किया। पीएम मोदी ने कर्नाटक में स्‍वास्‍थ्‍य सेवा के क्षेत्र को व्‍यापक प्रोत्‍साहन देते हुए ईएसआईसी हॉस्पिटल और मेडिकल कॉलेज राष्‍ट्र को समर्पित किया। उन्होंने केआईएमएस के सुपर स्‍पेशिएलिटी ब्‍लॉक को भी राष्‍ट्र को समर्पित किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीपीसीएल डिपो के रायचूर से कलबुर्गी तक रिस्‍टेटमेंट का शिलान्‍यास किया। इसके अलावा प्रधानमंत्री ने बैंगलुरु में आयकर न्‍यायाधिकरण टर्मिनल भी राष्‍ट्र को समर्पित किया। पीएम मोदी ने  बैंगलोर यूनिवर्सिटी में पूर्वोत्‍तर क्षेत्र की छात्राओं के लिए महिला छात्रावास को भी समर्पित किया।

भारत – बांग्‍लादेश सीमा पर स्‍मार्ट फैंसिंग की शुरूआत

केन्‍द्रीय गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने असम के धुबरी जिले में भारत-बांग्‍लादेश सीमा पर व्‍यापक एकीकृत सीमा प्रबंधन प्रणाली (सीआईबीएमएस) के अंतर्गत बीओएलडी-क्‍यूयूआईटी (बॉर्डर इलेक्‍ट्रॉनिकली डोमिनेटेड क्‍यूआरटी इंटरसेप्‍शन तकनीक) परियोजना का शुभारंभ किया। सीआईबीएमएस परियोजना से अवैध घुसपैठ, प्रतिबंधित सामानों की तस्‍करी, मानव तस्‍करी और सीमा पार आतंकवाद जैसे अपराधों का पता लगाने और उन्‍हें नियंत्रित करने में बीएसएफ की क्षमता में काफी सुधार आएगा। धुबरी में बीओएलडी -क्‍यूआईटी परियोजना को नदी की सीमा के साथ-साथ लागू किया गया है क्‍योंकि वहां सीमा फैंसिंग का निर्माण संभव नहीं था। धुबरी में यह 61 किलोमीटर लंबा सीमा क्षेत्र है जहां ब्रह्मपुत्र नदी, बांग्‍लादेश में प्रवेश करती है।

उत्तराखंड पुनरुद्धार परियोजना के लिए विश्‍व बैंक के साथ ऋण समझौता

नई दिल्ली में विश्व बैंक, भारत सरकार और उत्तराखंड की सरकार ने वर्ष 2013 में आई बाढ़ के बाद से ही निरंतर जारी उत्तराखंड की आपदा उपरांत पुनरुद्धार योजनाओं के लिए इस राज्य को अतिरिक्त धनराशि मुहैया कराने हेतु 96 मिलियन अमेरिकी डॉलर के ऋण समझौते पर हस्ताक्षर किए। इस समझौते का उद्देश्य उत्तराखंड की आपदा जोखिम प्रबंधन क्षमता को सुदृढ़ करना भी है। इस ऋण समझौते पर भारत सरकार की ओर से श्री समीर कुमार खरे ने हस्ताक्षर किए, उत्तराखंड सरकार की ओर से उत्तराखंड सरकार के वित्त एवं आपदा प्रबंधन सचिव तथा उत्तराखंड आपदा पुनरुद्धार परियोजना के कार्यक्रम निदेशक श्री अमित नेगी ने हस्ताक्षर किए और विश्व बैंक की ओर से वर्ल्ड बैंक इंडिया के कार्यवाहक कंट्री डायरेक्टर श्री हिशाम एब्दो ने हस्ताक्षर किए।

कुडो इंटरनेशनल फेडरेशन इंडिया (केआईएफआई) को राष्ट्रीय खेल महासंघ के रूप में मान्यता

युवा मामले तथा खेल मंत्रालय ने कुडो इंटरनेशनल फेडरेशन इंडिया (केआईएफआई) को राष्ट्रीय खेल महासंघ के रूप में अस्थायी मान्यता प्रदान कर दी है। यह मान्यता भारत की राष्ट्रीय खेल विकास संहिता के प्रावधानों के परिपालन के अधीन होगी। इस संहिता में समय-समय पर महासंघ द्वारा संशोधन किए जाते हैं।

इंटर-मोडल स्टेशन के विकास एवं रखरखाव की आधारशिला रखी गई

केन्द्रीय मंत्री श्री नितिन गडकरी ने नागपुर स्थित अजनी रेलवे स्टेशन पर इंटर-मोडल स्टेशन (आईएमएस) के विकास एवं रखरखाव की नींव रखी। आईएमएस एक यात्री टर्मिनल संबंधी बुनियादी ढांचागत सुविधा है, जो परिवहन के विभिन्न साधनों जैसे कि रेल, सड़क, त्वरित जन परिवहन प्रणाली (एमआरटीएस), त्वरित बस परिवहन (बीआरटी) और अन्य पैरा-मोडल परिवहन साधनों को एकीकृत करती है। इंटर-मोडल स्टेशनों पर यात्रियों को पारगमन के दौरान स्टेशन के परिसरों को कहीं भी छोड़कर जाए बिना ही परिवहन के अन्य साधनों को बदलने या उपयोग करने की सुविधा मिल जाती है।

March 7, 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *