MP Current Affair 4th March 2019

भोपाल में अखिल भारतीय महिला सम्मेलन 2019 का आयोजन

भोपाल में पहली बार आज अखिल भारतीय महिला सम्मेलन 2019 आयोजित किया गया। सम्मेलन का आयोजन अखिल भारतीय मलयाली एसोसिएशन एम.पी. चैप्टर द्वारा किया गया। संस्कृति और चिकित्सा शिक्षा मंत्री डॉ. विजय लक्ष्मी साधौ भी सम्मेलन में शामिल हुई और एसोसिएशन द्वारा किये जा रहे समाज-सेवा के कार्यों की सराहना की। सम्मेलन में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस,  महिला सशक्तिकरण, महिला स्वास्थ्य, महिला सुरक्षा और आत्म-रक्षा, बाल शोषण, जल-संरक्षण और स्वच्छ भारत, स्व-सहायता समूह, मन प्रबंधन, भविष्य को उज्जवल बनाने में एल.आई.सी. की भूमिका,  महिला द्वारा समस्या का सामना जैसे महत्वपूर्ण विषय पर चर्चा की गई।

डॉ. वेणीमाधव को लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड

भारत सरकार ने ग्‍वालियर के आयुर्वेदिक चिकित्‍सक और शासकीय आयुर्वेदिक राज्‍य महाविद्यालय के पूर्व प्राचार्य वेणीमाधव शास्‍त्री को आयुर्वेद चिकित्‍सा के क्षेत्र में उल्‍लेखनीय योगदान के लिए लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड से सम्‍मानित किया है। उन्‍हें यह सम्‍मान भारत स‍रकार के आयुष मंत्रालय तथा नेशनल एकेडमी ऑफ आयुर्वेद ने दिल्‍ली के प्रवासी भारतीय केंद्र परिसर में आयोजित समारोह में प्रदान किया।

ग्‍वालियर में दिव्‍यांगजन खेल-कूद केंद्र स्‍थापित करने के प्रस्‍ताव को मंजूरी

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की अध्‍यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने मध्‍य प्रदेश के ग्‍वालियर में दिव्‍यांगजन खेल-कूद केंद्र स्‍थापित करने के प्रस्‍ताव को स्‍वीकृति प्रदान कर दी है। इसे सोसायटी पंजीकरण अधिनियम,1860 के तहत पंजीकृत किया जाएगा। इसका नाम दिव्‍यांगजन खेल-कूद केंद्र, ग्‍वालियर होगा। इस सेंटर द्वारा सृजित उन्नत बुनियादी सुविधाओं के बल पर खेल की गतिविधियों में भी दिव्यांगजनों की प्रभावी भागीदारी सुनिश्चित किया जाएगा और उन्हें राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिस्पर्धा करने में सक्षम बनाया जाएगा। इस केंद्र की स्थापना से समाज के साथ दिव्यांगजनों को जोड़ने की भावना का विकास होगा। यह परियोजना 1 अप्रैल, 2019 को शुरू होगी और दो साल, यानि 31 मार्च 2021 तक इसके पूरा होने की संभावना है। इस केंद्र में एक आउटडोर एथलेटिक स्टेडियम, इनडोर स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, बेसमेंट पार्किंग सुविधा; जलीय केंद्र में 2 स्विमिंग पूल, एक कवर पूल और एक आउटडोर पूल, कक्षाओं के साथ उच्च निष्पादन केंद्र; चिकित्सा सुविधाएं; खेल विज्ञान केंद्र; एथलीटों के लिए छात्रावास की सुविधा, सुलभ लॉकर्स, भोजन, मनोरंजक सुविधाएं और प्रशासनिक ब्लॉक सहित सहायता सुविधाएं उपलब्ध होंगी। इस प्रकार विकसित सुविधाओं से प्रशिक्षण, चयन, खेल शिक्षाविदों और अनुसंधान, चिकित्सा सहायता, दर्शक दीर्घाओं और राष्ट्रीय / अंतर्राष्ट्रीय आयोजनों आयोजनों के लिए उपयुक्त सुविधाओं से सुसज्जित बहुआयामी केंद्र होंगे।

राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास संस्थान की आधारशिला रखी गई

दिव्यांग सशक्तिकरण विभाग की सचिव श्रीमती शकुंतला डी. गैमलिन ने मध्य प्रदेश के सीहोर जिले में भोपाल-सीहोर राजमार्ग से लगे शेरपुर गांव में राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास संस्थान की नींव रखी। यह संस्थान देश में अपनी तरह का पहला होगा। केंद्र सरकार ने तीन साल की शुरुआती अवधि के लिए इस परियोजना के लिए 180 करोड़ रुपये के परिव्यय को स्‍वीकृति दी है। यह संस्थान एक एकीकृत बहु-विषयी पहुंच का उपयोग करके मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास को बढ़ावा देगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *