MP Current Affair 4th July 2019

जवाहरलाल नेहरू कृषि विवि जबलपुर की जमीन पर सैटेलाइट सिटी बनाने का प्रस्‍ताव

राज्य सरकार की सैटेलाइट सिटी बनाने की मंशा के बीच जबलपुर नगर निगम ने जवाहर लाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय (जेएनकेविवि) की 200 एकड़ जमीन पर यह सिटी बनाने का प्रस्ताव दे दिया है। यह प्रदेश का एकमात्र कृषि विवि है, जहां देश में सीड रिप्लेसमेंट के लिए छात्र-छात्राएं बीज तैयार करते हैं। इसके लिए केंद्र सरकार न केवल पैसा देती है, बल्कि किसान व संस्थाएं इसी विवि से बीज लेकर जाते हैं।

250 साल बाद मांडू में फिर होगा प्रभु चतुर्भुज श्रीराम का पाटोत्सव

250 साल बाद मांडू में फिर से प्रभु चतुर्भुज श्रीराम का पाटोत्सव का आयोजन शुरू किया जा रहा है। पाटोत्सव का अर्थ है भगवान की प्रतिमा प्रतिष्ठा का महोत्सव। उसी दिन भगवान प्रतिमा और स्वरूप में अपने क्षेत्र के मंदिर में प्रतिष्ठित हुए। बताया जाता है कि धार जिले में मांडू में स्थित विश्व की एकमात्र भगवान श्रीराम की वनवास काल नर में नारायण के चतुर्भुज स्वरूप की प्रतिमा है। इस उत्सव में श्रीरामजी का महामस्तकाभिषेक रामलीला, संत समागम व संपूर्ण गांव में राम जी का भ्रमण किया जाएगा।

मंत्रालय में 15 अगस्त से ई-ऑफिस प्रणाली

मंत्रालय में आगामी 15 अगस्त से ई-ऑफिस कार्य-प्रणाली लागू करने के निर्देश दिए गए हैं। सामान्य प्रशासन विभाग के अपर मुख्य सचिव पीसी मीना ने सभी विभागों के एसीएस, प्रमुख सचिवों व सचिवों को 15 अगस्त से इस पर काम करने के लिए पत्र भेजा है। ई-ऑफिस प्रणाली में मंत्रालय के अधिकारी-कर्मचारी अपने घर या अन्य स्थान से भी काम कर सकेंगे।

एलएएचएस ग्‍वालियर को मिला नेशनल इंस्पाइरिंग क्लाइमेट स्कूल व ग्रीन मेंटर अवॉर्ड

लिटिल एंजेल्स हाईस्कूल ग्वालियर को अहमदाबाद में हुई दो दिवसीय नेशनल ग्रीन कॉन्फ्रेंस में नेशनल इंस्पाइरिंग क्लाइमेट स्कूल अवॉर्ड और ग्रीन मेंटर-2019 अवॉर्ड दिया गया है। इसमें देश के स्कूल सहित दुबई के स्कूल ने भागीदारी की।

मप्र के सरकारी, निजी मेडिकल व डेंटल कॉलेजों में एडमिशन के बाद सीट छोड़ने पर 30 लाख रु. दंड

राज्य सरकार ने प्रदेश के सरकारी, निजी मेडिकल व डेंटल कॉलेजों में एमबीबीएस व बीडीएस की सीटों के आवंटन के बाद सीट छोड़ने पर (सीट लिविंग बॉन्ड) आर्थिक दंड तीन गुना कर दिया है। अब बंधपत्र के तहत छात्र को 30 लाख रुपए जमा करवाना होंगे। पिछले वर्ष यह राशि 10 लाख रुपए थी।

July 4, 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *