MP Current Affair 27th February 2019

26-27 फरवरी को अ. भा. पुलिस महानिदेशक (जेल) कॉन्फ्रेंस का आयोजन

26-27 फरवरी को सेन्ट्रल एकेडमी ऑफ पुलिस ट्रेनिंग (सी.ए.पी.टी.) कान्हासैया में अखिल भारतीय पुलिस महानिदेशक (जेल) कॉन्फ्रेंस होगी। कॉन्फ्रेंस का आयोजन गृह मंत्रालय भारत सरकार, पुलिस अनुसंधान एवं विकास विभाग तथा मध्यप्रदेश जेल विभाग के तत्वधान में किया जा रहा है। इसमें सभी प्रदेशों एवं केन्द्र शासित राज्यों के विभागाध्यक्ष, डी.जी. जेल, उनके सहयोगी अधिकारी शामिल होंगे। कांफ्रेंस में देश में जेल प्रशासन के ज्वलंत मुद्दे ‘रिहाई पश्चात बंदियों की देखभाल में समाज की भागीदारी एवं कारावास की वर्तमान व्यवस्था के नए विकल्प, जेलों से संबंधित मुद्दों एवं चुनौतियों के न्यूनतम मानक का अनुपालन, जेलकर्मियों की भलाई एवं कल्याण (विशिष्ट रूप से मानसिक एवं शारीरिक स्वास्थ्य एवं सुरक्षा), जेल प्रशिक्षण संस्थानों का मानकीकरण एवं प्रमाणन, प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल- मुख्य रूप से जेल मुलाकात प्रबंधन एवं कैदियों की बायोमेट्रिक पहचान” पर चर्चा की जाएगी।

त्रिपुरा में प्रदेश के 100 युवा को मिलेगा बाँस शिल्प प्रशिक्षण

राज्य बाँस मिशन द्वारा केन्द्रीय विकास आयुक्त (हस्तशिल्प) के सहयोग से प्रदेश के 100 युवक-युवतियों को बाँस शिल्प प्रशिक्षण दिलाया जायेगा। यह प्रशिक्षण निःशुल्क दिया जायेगा। कार्यक्रम के तहत इन युवक-युवतियों को भारत शासन के अधीन संस्था बाँस और केन डेव्हलपमेंट इंस्टीट्यूट अगरतला, त्रिपुरा में बाँस बास्केटरी प्रोडक्ट, बाँस टर्निंग प्रोडक्ट, बाँस ज्वेलरी, बाँस फर्नीचर आदि बनाने का प्रशिक्षण दिया जायेगा।

एवं उत्पीड़नअधिनियम पर राज्य-स्तरीय कार्यशाला का आयोजन

महिलाओं की सुरक्षा के लिए कार्य-स्थल पर लैंगिक हिंसा एवं उत्पीड़न अधिनियम 2013 एवं वन स्टॉप सेंटर पर दो दिवसीय राज्य-स्तरीय कार्यशाला का आयोजन 27 फरवरी से महिला-बाल विकास संचालनालय पर किया जायेगा। कार्यशाला का आयोजन  यू एन वूमन के तकनीकी सहयोग से किया जायेगा।

‘भारतीय इतिहास कांग्रेस’ अधिवेशन का आयोजन

26 से 28 फरवरी के बीच भोपाल में भारतीय इतिहास कांग्रेस (आईएचसी) के 79वे तीन दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। यह अधिवेशन बरकतुल्ला विश्वविद्यालय के तत्वावधान में आयोजित किया जा रहा है।

नर्मदा घाटी की योजनाओं का भूमि-पूजन

मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने देवास जिले के सोनकच्छ में नर्मदा-कालीसिंध लिंक उद्वहन सिंचाई योजना और बड़वानी जिले के नागलवाड़ी ग्राम में माईक्रो उद्वहन सिंचाई योजना का भूमि-पूजन किया। दोनों योजनाओं से सम्मिलित रूप से एक लाख 47 हजार हेक्टेयर सिंचाई क्षमता निर्मित होगी।

February 27, 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *