Current Affair 26th January 2019

70वां गणतंत्र दिवस मनाया गया

देश की राजधानी नई दिल्ली के अलावा देश के विभिन्न राज्यों में भी 70वे गणतंत्र दिवस समारोह का आयोजन किया गया। मुख्‍य समारोह राष्‍ट्रीय राजधानी में राजपथ पर आयोजित किया गया, जहां हर साल की तरह देश की संस्कृति को दिखाने वाली झांकियों के साथ भारतीय सेना ने अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया। राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने परेड की सलामी ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इन खूबसूरत झांकियों को देखा। दक्षिण अफ्रीका के राष्‍ट्रपति सिरिल रामाफोसा गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्‍य अतिथि के तौर पर मौजूद रहे। आजाद हिंद फौज के सेनानी पहली बार गणतंत्र दिवस समारोह की परेड में शामिल हुये।

लांस नायक नजीर अहमद वानी को अशोक चक्र सम्‍मान

आतंक का रास्‍ता छोड़कर देश की सेना में भर्ती होकर शहीद होने वाले लांस नायक नजीर अहमद वानी को मरणोपरांत अशोक चक्र से सम्‍मानित किया गया। उन्‍हें यह अवार्ड गणतंत्र दिवस समारोह के अवसर पर दिया गया। इस पुरस्‍कार को लेने उनकी मां और पत्‍नी पहुंची। वे नवंबर 2018 में आतंकवादियों से लड़ते हुये शहीद हो गये थे।

लेफिटनेंट भावना कस्‍तूरी पुरूष टुकड़ी आर्मी सर्विस कॉर्प्‍स का नेतृत्‍व करने वाली पहली महिला अफसर बनी

भारतीय सेना की सर्विस कॉर्प्स रेजीमेंट का नेतृत्व लेफ्टिनेंट भावना कस्तूरी ने किया। इसका आदर्श वाक्य है- उसका मानना था कि वह कर सकती है, इसलिए उसने ऐसा किया। भावना ऐसा करनी वाली पहली महिला अफसर‍ है।

एक्‍सेस कंट्रोल हाइवे का शिलान्‍यास

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने 26 जनवरी को दिल्ली स्थित खजुरी में अक्षरधाम से सहारनपुर रोड को जोड़ने वाले छह लेन की एलिवेटेड रोड का शिलान्यास किया। नितिन गडकरी ने कहा कि परिवहन मंत्रालय दिल्ली और आसपास को इलाकों में यात्रा को सुगम बनाने के लिए कई परियोजनाओं पर काम कर रहा है. सरकार इन परियोजनाओं के लिए 50 हजार करोड़ खर्च कर रही है, जिसमें इस्टर्न और वेस्टर्न पेरिफेरल, द्वारका एक्सप्रेसवे, दिल्ली-मेरठ हाइवे और अन्य शामिल हैं।

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत सहित 19 अधिकारियों को परम विशिष्‍ट सेवा पदक

थल सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत सहित 19 सैन्‍य अधिकारियों को परम विशिष्‍ट सेवा पदक से सम्‍मानित किया गया है। जनरल बिपिन रावत के अतिरिक्‍त 15 लेफ्टिनेंट जनरलों और तीन मेजरों का यह सम्‍मान दिया गया है। यह पदक शांतिकाल में असाधारण सेवाओं के लिए दिया जाता है।

गन्‍ने का रस पाकिस्‍तान का राष्‍ट्रीय जूस घोषित

पाकिस्‍तान सरकार ने एक ऑनलाइन पोल में गन्‍ने के रस को देश का राष्‍ट्रीय जूस घोषित किया है। ऑनलाइन पोल में 81 प्रतिशत लोगों ने गन्‍ने के जूस को अपना मत दिया जबकि 15 प्रतिशत लोगों ने संतरे के जूस को और 4 प्रतिशत लोगों ने गाजर के जूस को अपना मत दिया।

आईआईटी की टीम ने दृष्टिहीनों के लिए बनाया नोटों की पहचान करने वाला एप

आईआईटी रोपड़ ने दृष्टिहीनों के लिए नए और पुराने नोटों की पहचान करने के लिए एक ऐंड्रॉइड एप बनाया है जिसका नाम ‘रोशनी’ रखा गया है। यह एप फोन के टॉक बैक से चलेगा। जब मोबाइल के कैमरे पर नोट की तस्‍वीर फोकस होगी तो यह बता देगा के नोट कितने का है।

उड़ान के तीसरे चरण में छह स्‍थानों से सी – प्‍लेन सेवा को मंजूरी

नागर विमान मंत्रालय ने छोटे तथा मझौले शहरों के लिए ‘उड़े देश का आम नागरिक (उड़ान)’ के तीसरे चरण के तहत 11 ऑपरेटरों को सी-प्‍लेन समेत 325 मार्गों का आवंटन किया। गुजरात में ‘स्‍टेच्‍यू ऑफ यूनिटी’ तथा ‘साबरमती रिवर फ्रंट’ समेत छह वाटरड्रमों से इनकी शुरूआत होगी।

तीनदिवसीय वर्ल्ड इंटीग्रेटेड मेडिसिन फोरम गोवा में संपन्‍न

होम्यपैथी औषधि उत्पादों के नियमन पर आधारित तीनदिवसीय वर्ल्ड इंटीग्रेटेड मेडिसिन फोरम का समापन 25 जनवरी को हो गया। इसका मूल विषय था- वैश्विक सहयोग बढ़त की ओर। गोवा की राज्यपाल श्रीमती मृदुला सिन्हा इस फोरम के समापन समारोह में उपस्थित हुईं। आयुष मंत्रालय, होम्योपैथिक फॉर्माकोपिया कन्वेंशन ऑफ द यूनाइटेड स्टेट्स (एचपीसीयूएस) एवं यूरोपियन कोलीशन ऑन होम्योपैथिक एंड आन्थ्रोपोसोफिक मेडिसिनल प्रोडक्ट (ईसीएचएएमपी), फॉर्माकोपिया कमीशन ऑफ इंडियन मेडिसिन एंड होम्योपैथी और केन्द्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (सीडीएससीओ) के सहयोग से केन्द्रीय होम्योपैथी अनुसंधान परिषद (सीसीआरएच) के द्वारा इस फोरम का आयोजन किया गया था।

नाओमी ओसाका ऑस्‍ट्रेलियन ओपन जीतने वाली पहली जापानी खिलाड़ी

जापान की नाओमी ओसाका ने ऑस्‍ट्रेलियन ओपन में वुमन्‍स सिंगल का खिताग जीत लिया। उन्‍होंने फाइनल में चेक गणराज्‍य की पेट्रा क्वितोवा को 7-6, 5-7, 6-4 से हराया। इस जीत के साथ वे ऑस्‍ट्रेलियन ओपन जीतने वाली पहली जापानी खिलाड़ी बन गई हैं। इस जीत के साथ ही वे सेरेना के बाद लगातार यूएस और ऑस्‍ट्रेलियन ओपन जीतने वाली दूसरी महिला बन गई हैं।

January 27, 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *