Current Affair 1st April 2019

एलसीयू एल-56 नौसेना में शामिल

लैंडिंग क्राफ्ट यूटिलिटी (एलसीयू) एमके-4 के छठी श्रेणी के जहाज एलसीयू एल-56 जहाज को भारतीय नौसेना में शामिल किया गया है। इस जहाज को मैसर्स जीआरएसई लिमिटेड द्वारा निर्मित  किया गया है। यह कोलकाता में डीपीएसयू द्वारा तैयार किया गया 100 वाँ जहाज है। जहाज की कमान लेफ्टिनेंट कमांडर गोपीनाथ नारायण के पास है और इसमें पांच अधिकारियों के अलाव 50 नौसैनिक भी शामिल हैं।

रियर एडमिरल सूरज बेरी ने पूर्वी बेड़े की कमान का पदभार ग्रहण किया

रियर एडमिरल सूरज बेरी, एनएम, वीएसएम ने 30 मार्च 2019 को नौसेना बेस, विशाखापत्तनम में आयोजित एक समारोह के दौरान रियर एडमिरल दिनेश के त्रिपाठी, एवीएसएम, एनएम से पूर्वी नौसेना कमान के स्वॉर्ड आर्म, पूर्वी बेड़े की कमान का पदभार ग्रहण किया। रियर एडमिरल सूरज बेरी को 01 जनवरी 1987 को कमीशन किया गया था। वह गनरी तथा मिसाइल वारफेयर के विशेषज्ञ हैं। उन्हें 2006 में श्रीलंका / मालदीव में सुनामी राहत कार्यों के दौरान सेवाओं के लिए विशिष्ट सेवा पदक और 2015 में कर्तव्य के प्रति समर्पण के लिए नौ सेना पदक (नेवी मेडल) से सम्मानित किया गया। अक्टूबर 2016 में उन्हें फ्लैग रैंक दिया गया। वह पूर्वी बेड़े की कमान संभालने से पहले मानव संसाधन विकास के कार्मिक सहायक प्रमुख थे।

अर्थ ऑवर 2019 मनाया गया

ऊर्जा की बचत कर धरती को सुरक्षित रखने के उद्देश्य से 30 मार्च को रात्रि 8.30 बजे से 9.30 बजे तक दुनियाभर में अर्थ ऑवर मनाया गया। इस दौरान भारत में राजधानी दिल्ली में 8.30 बजे से 9.30 बजे तक प्रमुख इमारतों और प्रतिष्ठानों की लाइटें बंद रहीं। इस साल ‘अर्थ ऑवर’ की थीम ‘जीने का तरीका बदलो’ है। दिल्ली में राष्ट्रपति भवन, इंडिया गेट, चारमीनार, विक्टोरिया टर्मिनस और दिल्ली के अक्षरधाम मंदिर, तो मुंबई में गेटवे ऑफ इंडिया की लाइट बंद रही। पेरिस के एफिल टॉवर, न्यूयॉर्क की एंपायर स्टेट बिल्डिंग, दुबई का बुर्ज खलीफा और एथेंस में एक्रोपोलिस, ऑस्ट्रेलिया का सिडनी ओपेरा हाउस और हार्बर ब्रिज उन 24 वैश्विक स्थलों में से हैं, जो अर्थ ऑवर में शामिल हुए। पर्यावरण संरक्षण के लिए काम करने वाली संस्था ‘वर्ल्ड वाइड फंड फॉर नेचर’ की ओर से धरती पर जीवन की संभावनाएं बचाए रखने के लिए विश्वस्तर पर यह अभियान हर साल मार्च में चलाया जाता है। इस संस्था का मकसद लोगों को बिजली बचाने, पर्यावरण की सुरक्षा के प्रति जागरूक करना है।

शरिया के मुताबिक सुकन्‍या समृद्धि योजना हराम

इस्लामिक मुफ्तियों के ने प्रस्ताव पारित कर कहा कि सरकार की सुकन्या समृद्धि योजना हराम है। यह प्रस्‍ताव जमीयत उलेमा ए हिंद के तीन दिवसीय कांफ्रेंस के बाद लाया गया। जमीयत उलेमा ए हिन्द के मीडिया प्रभारी अजीमुल्लाह सिद्दीकी ने बताया कि यह योजना  ब्याज पर आधारित है, इसलिए यह इस्लामिक शरिया के अनुसार अवैध है

चीन का शंघाई 5जी कनेक्टिविटी वाला दुनिया का पहला शहर बना

चीन का शंघाई शहर 5जी कनेक्टिविटी वाला दुनिया का पहला शहर बन गया है। 4जी की तुलना में 5जी की स्पीड 10 से 100 गुना ज्यादा तेज होगी। इससे एक जीबी की फिल्म केवल 5 सेकेंड में डाउनलोड हो जाएगी। 5जी नेटवर्क की लांचिंग के मौके पर शंघाई के उप महापौर वू किंग ने हुवावे का दुनिया के पहले फोल्डेबल 5जी फोन मेट एक्स से वीडियो कॉल किया।

जुजाना कापुतोवा स्लोवाकिया की पहली महिला राष्ट्रपति होंगी

अभी तक हुई मतगणना में कापुतोवा को 58 फीसदी से अधिक मत मिले हैं ओर उनके विरोधी मारोस सेफकोविस को तकरीबन 42 फीसदी वोट मिले हैं। इन रुझानों को देखकर स्पष्ट हो चला है कि स्लोवाकिया की अगली राष्ट्रपति कापुतोवा ही होंगी। 45 वर्षीय कापुतोवा पेशे से वकील हैं और इन्हें यूरोपियन यूनियन का बड़ा समर्थक भी माना जाता है।

मलेशिया में पुत्रजया इंटरनेशनल हॉट एयर बैलून फेस्टिवल

मलेशिया का इंटरनेशनल हॉट एयर बैलून फेस्टिवल पुत्रजया शहर में आयोजित किया गया। इस बार फेस्टिवल का 10वां आयोजन मनाया गया। यह फेस्टिवल हर दो साल में आयोजित किया जाता है।

बेल्‍ट एंड रोड फोरम का बहिष्‍कार करेगा भारत

भारत ने चीन के क्षेत्र एवं सड़क (बेल्ट एंड रोड) फोरम का बहिष्कार करने के संकेत दिए। विवादित चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) के मुद्दे पर विरोध जताते हुए भारत ने 2017 में हुए पहले बेल्ट एंड रोड फोरम (बीआरएफ) का भी बहिष्कार किया था। चीन के बेल्ट ऐंड रोड प्रॉजेक्ट के तहत बन रहा चाइना-पाकिस्तान इकॉनमिक कॉरिडोर पाकिस्तान अधिकृत जम्मू-कश्मीर से होकर गुजरता है, जिस पर भारत को आपत्ति है।

पाकिस्‍तान के पंजाब में टेंट पेगिंग फेस्टिवल

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में टेंट पेगिंग फेस्टिवल का आयोजन हुआ। इसमें सिर्फ ग्रामीण खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया। ये फेस्टिवल खानेवाल जिले के गांव तुलुंबा में हर साल आयोजित होता है। इस बार 120 घुड़सवार आए। पोलो की तरह खेले जाने वाले 2400 साल पुराने इस खेल में घुड़सवार को भाले से मैदान में लगा लकड़ी का खूंटा उखाड़ना होता है। तब सिख योद्धा टेंट पेगिंग को युद्ध कौशल में आजमाते थे, ताकि गुरिल्ला हमले कर सकें। सिख योद्धाओं की पहली घुड़सवार टुकड़ी रात में दुश्मनों के तंबुओं के खूंटे भाले से खोद देती थी। तंबू गिर जाने से दुश्मन उसमें एक तरह से कैद हो जाता था। फिर दूसरी टुकड़ी दुश्मन पर विजयी हमला कर मुड़ जाती थी। तभी से ये खेल शुरू हुआ। फेस्टिवल का लक्ष्‍य इस पारंपरिक खेल को जिंदा रखना है। इसमें हिस्सा लेने वाले को अच्छा घुड़सवार होने के साथ भाला चलाने वाला भी होना चाहिए।

दक्षिण कोरिया ने जीता अजलानशाह हॉकी टूर्नामेंट

पेनल्टी शूटआउट तक चले मुकाबले में द. कोरिया ने भारत को 4-2 से हरा दिया। निर्धारित समय तक स्कोर 1-1 से बराबरी से छूटने के बाद पेनल्टी शूटआउट के जरिये विजेता का फैसला किया गया जिसमें बाजी द. कोरिया ने मारी। कोरिया ने 23 साल बाद शूटआउट में भारत को हराया। कोरिया ने तीसरी बार टूर्नामेंट जीता है।

April 1, 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *