MP Current Affair 17th February 2019

जबलपुर में राज्य स्तरीय महात्मा गांधी राज्य ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज संस्थान के छात्रावास का लोकार्पण

पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल ने गांधी राज्य ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज संस्थान के एक करोड़ 35 लाख लागत के छात्रावास का लोकार्पण किया। श्री कमलेश्वर पटेल ने कहा है कि प्रदेश में पंचायत राज संस्थाओं को मजबूत बनाने में संस्थान की महती भूमिका है।

मध्यप्रदेश न्यायाधीश संघ के अधिवेशन का शुभारंभ

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने आज जबलपुर में मध्यप्रदेश न्यायाधीश संघ के अधिवेशन का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर तीन दिसम्बर को अधिवक्ता दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की। मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश श्री एस.के. सेठ की अध्यक्षता में शुरू हुए अधिवेशन में विशिष्ट अतिथि विधि एवं विधायी कार्य, जनसम्पर्क तथा विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री श्री पी.सी. शर्मा थे। इस अवसर पर म.प्र. उच्च न्यायालय, जिला न्यायालयों के न्यायाधीश और न्यायाधीश संघ के पदाधिकारी मौजूद थे।

अश्वनी कुमार काछी की अंत्‍येष्टि में शामिल हुए मुख्‍यमंत्री

जबलपुर जिले की मझौली तहसील के ग्राम खुडावल के शहीद अश्वनी कुमार काछी की अंत्येष्टि उनके गृह ग्राम में राजकीय सम्मान के साथ की गई। स अवसर पर मुख्यमंत्री कमल नाथ, सामान्य प्रशासन मंत्री डॉ. गोविंद सिंह, उच्च शिक्षा, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्री जीतू पटवारी, सांसद श्री राकेश सिंह, विधायक श्री अजय विश्नोई, मुख्य सचिव श्री सुधि रंजन मोहंती, गणमान्य नागरिक और बड़ी संख्या में ग्रामवासी उपस्थित थे। अश्विनी कुमार जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी 2019 को हुई आतंकवादी घटना में शहीद हुए थे।

सूचना प्रौद्योगिकी संचालनालय का होगा गठन

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ की अध्यक्षता में पहली बार जबलपुर में आयोजित मंत्रि-परिषद बैठक में सूचना प्रौद्योगिकी संचालनालय एवं उसके लिए आवश्यक कैडर के गठन को स्‍वीकृति दी गई। मंत्रि-परिषद ने प्रदेश में प्रोद्यौगिकी के क्षेत्र में हो रहे विस्तार के परिप्रेक्ष्य में सूचना प्रौद्योगिकी संचालनालय के गठन के साथ ही सेंटर ऑफ एक्सीलेन्स प्रोजेक्ट ई-मिशन को जारी रखने को स्‍वीकृति दी। यह मिशन 2017-18 से 2019-20 तक चालू रहेगा। बैठक में महिलाओं को आपातकालीन स्थिति में सहायता देने के लिए 24 घंटे महिला हेल्पलाइन 181 (टोल फ्री नंबर) योजना को मंजूरी प्रदान की गई।

February 18, 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *