Current Affair 16th February 2019

पोर्टल एलएडीआईएस – न्यूनतम उपलब्ध गहराई सूचना प्रणाली का शुभारंभ 

राष्ट्रीय जलमार्गों के इष्टतम उपयोग को सुनिश्चित करने के लिए भारतीय अंतर्देशीय जलमार्ग प्राधिकरण (आईडब्‍ल्‍यूएआई) ने एक नए पोर्टल एलएडीआईएस – न्यूनतम उपलब्ध गहराई सूचना प्रणाली का शुभारंभ किया। एलएडीआईएस – यह सुनिश्चित करेगा कि – न्यूनतम उपलब्ध गहराइयों के बारे में वास्तविक आंकड़ों को जहाज/नौका और मालवाहक जहाजों के मालिकों को प्रसारित किया जाए, ताकि वे राष्‍ट्रीय जलमार्गों पर अधिक नियोजित तरीके से परिवहन कर सकें। इस पोर्टल को आईडब्‍ल्‍यूएआई की वेबसाइट www.iwai.nic.in पर होस्ट किया जा रहा है।

केंद्रीय भूविज्ञानी प्रोग्रामिंग बोर्ड (सीजीपीबी) की बैठक का आयोजन

केंद्रीय खान राज्य मंत्री श्री हरिभाई परथी भाई चौधरी ने नई दिल्ली के पूसा में आयोजित केंद्रीय भूविज्ञानी प्रोग्रामिंग बोर्ड (सीजीपीबी) की 58वीं बैठक के उद्घाटन सत्र को संबोधित किया। उन्होंने भारत में खनिज संपदा की खोज की स्थिति पर लगी प्रदर्शनी का उद्घाटन भी किया। सीजीपीबी की बैठक की अध्यक्षता केंद्रीय खान सचिव श्री अनिल मुकीम ने की। सीजीपीबी के अवसर पर जीएसआई ने निशुल्क डाउनलोड करने योग्य बेस लाइन डाटा (भूविज्ञानी, भूरसायन, भूभौतिकी) 01 मार्च, 2019 से अपनी वेबपोर्टल पर लांच करने की घोषणा की।

विश्व बैंक के साथ शिमला के लिए पहले व्यावहारिक जलापूर्ति तथा सीवर सेवा डिलिवरी सुधार विकास नीति ऋण के लिए कानूनी समझौता

भारत सरकार, हिमाचल प्रदेश सरकार तथा विश्व बैंक ने नई दिल्ली में ग्रेटर शिमला एरिया में स्वच्छ और विश्वसनीय पेय जल लाने में मदद देने के लिए 40 मिलियन डॉलर के ऋण समझौते पर हस्ताक्षर किए। शिमला जलापूर्ति तथा इससे शिमला शहर और आसपास के इलाकों में जलापूर्ति तथा स्वच्छता की स्थिति में सुघार होगा।

कोर ऑफ सिग्नल्स की 208वीं वर्षगांठ समारोह

15 फरवरी, 2019 को कोर ऑफ सिग्नल्स की 208वीं वर्षगांठ मनाई गई। 1911 में इसकी स्थापना हुई थी। कोर ऑफ सिग्नल्स तेज आधुनिकीकरण तथा मजबूत सुरक्षित अखिल भारतीय सेना संचार के लिए समकालीन संचार चुनौतियों के अनुरूप बना हुआ है। अगली पीढ़ी के रणनीतिक नेटवर्कों को लागू करने तथा इलेक्ट्रानिक युद्ध क्षमताओं को बढ़ाने के लिए गति प्रदान की गई है।

18 फरवरी 2019 को टैगोर पुरस्‍कार वितरण

18 फरवरी, 2019 को राष्ट्रपति श्री राम नाथ कोविन्द नई दिल्ली के प्रवासी भारतीय केन्द्र में श्री राजकुमार सिंघाजीत सिंह को वर्ष 2014, छायानॉत (बांग्लादेश की सांस्कृतिक संगठन) को वर्ष 2015  और श्री राम सुतार वांजी को 2016 के लिए सांस्कृतिक सद्भाव टैगोर पुरस्कार प्रदान करेंगे। सांस्कृतिक सद्भाव के लिए टैगोर पुरस्कार की शुरूआत भारत सरकार ने 2012 में गुरुदेव रवीन्द्रनाथ टैगोर उनकी 150वीं जयंती के अवसर पर की थी। यह पुरस्कार वर्ष में एक बार दिया जाता है जिसके तहत एक करोड़ रुपये नकद (विदेशी मुद्रा में विनिमय योग्य), एक प्रशस्ति पत्र, धातु की मूर्ति और एक उत्कृष्ट पारम्परिक हस्तशिल्प/हस्तकरघा वस्तु दी जाती है। 2012 में पहला टैगोर पुरस्कार सितार वादक पंडित रविशंकर प्रसाद को प्रदान किया गया था।

पीएम ने देश की पहली सेमी हाई स्पीड ट्रेन को दिखाई हरी झंडी

प्रधानमंत्री ने देश की पहली सेमी हाई स्पीड ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। यह ट्रेन दिल्‍ली से वाराणसी के बीच चलेगी और अपना सफर आठ घंटे में पूरा करेगी। यह ट्रेन पूरी तरह से भारत में बनी है। इस ट्रेन में दोनों तरफ ऑटोमैटिक स्लाइडिंग दरवाजे,  स्लाइडिंग सीढ़ियां और सभी कोच में वाई-फाई, इंफोटेनमेंट की सुविधा, GPS बेस्ड पैसेंजर इंफॉर्मेशन सिस्टम लगे हुए हैं। मेट्रो ट्रेन की तरह वंदे भारत एक्सप्रेस में दोनों तरफ ड्राइविंग केबिन भी बना हुआ है। ये ट्रेन सोमवार और गुरुवार को छोड़ सप्ताह के पांचों दिन चलेगी।

 पाकिस्तान से छीन मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा

भारत सरकार ने पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन (सर्वाधिक तरजीही देश) का दर्जा छीन लिया है। भारत सरकार ने यह कदम जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद लिया है। यह दर्जा व्यापार में सहयोगी राष्ट्रों को दिया जाता है। इसमें MFN राष्ट्र को भरोसा दिलाया जाता है कि उसके साथ भेदभाव रहित व्यापार किया जाएगा।

पीएम ने झांसी में कई विकास परियोजनाओं का शिलान्‍यास किया

पीएम मोदी ने झांसी में करीब 21 हजार करोड़ रुपये की परियोजनाओं को का उद्घाटन और शिलान्यास किया। पीएम मोदी ने ढांचागत विकास योजनाओं के अतिरिक्त रक्षा कॉरिडोर की आधारशिला रखी। प्रधानमंत्री ने झांसी में रक्षा कॉरिडोर की आधारशिला रखी। पीएम मोदी ने 297 किलोमीटर लंबे झांसी-खैरार रेल सेक्‍शन के विद्युतीकरण का उद्घाटन किया। इससे इस सेक्‍शन पर रेलगाडि़यों का आवागमन तेज हो जाएगा और साथ ही कार्बन उत्‍सर्जन में भी कमी आएगी। प्रधानमंत्री ने पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश को निर्बाध बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए बनाई गई पश्चिमी-उत्‍तर अन्‍तर-क्षेत्रीय बिजली पारेषण लाइन राष्‍ट्र को समर्पित की। पीएम ने पहाड़ी बांध आधुनिकीकरण परियोजना का भी उद्घाटन किया. यह बांध धसान नदी पर बनाया गया है।  स्‍वच्‍छ पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित करने की सरकार की योजना के तहत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुंदेलखंड क्षेत्र के ग्रामीण इलाकों में पाइप लाइन के जरिए पानी की आपूर्ति योजना का शिलान्‍यास भी किया। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने झांसी शहर के लिए ‘अमृत’ के तहत पेयजल आपूर्ति योजना के दूसरे चरण की भी आधारशिला रखी। पीएम मोदी ने झांसी में पुराने रेल डिब्‍बों को नया बनाने के वर्कशॉप का शिलान्‍यास किया। प्रधानमंत्री ने झांसी-माणिकपुर और भीमसैन-खैरार सेक्‍शन पर 425 किलोमीटर लंबे रेलमार्ग के दोहरीकरण की परियोजना की आधारशिला रखी।

हिना जायसवाल बनी इंडियन एयरफोर्स की पहली महिला फ्लाइट इंजीनियर

फ्लाइट लेफ्टिनेंट हिना जायसवाल को इंडियन एयरफोर्स की पहली महिला इंजीनियर बनाया गया है। उन्हें जनवरी 2015 में भारतीय वायुसेना में नियुक्त किया गया था। यह पद अब तक केवल पुरुषों के पास ही था।

केरल में इको सर्किट का विकास : पठनमथिट्टा – गवी – वागामोन – थेक्कडी परियोजना का उद्घाटन

17 फरवरी 2019 को केरल के वागामोन में  केंद्रीय पर्यटन मंत्री श्री के.जे. अल्फोंस पर्यटन मंत्रालय की स्वदेश दर्शन योजना के तहत इको सर्किट का विकास : पठनमथिट्टा – गवी – वागामोन – थेक्कडी परियोजना का उद्घाटन करेंगे। इस परियोजना के तहत किए गए प्रमुख कार्यों में वागामन में इको एडवेंचर टूरिज्म पार्क, कदमानीट्टा में सांस्कृतिक केंद्र, पीरुमेदु, इडुक्की में इको लॉग हट्स, पाइन वैली फॉरेस्ट में एप्रोच रोड, पग डंडियां, रेन शेल्टर, थेक्कडी, कुमिली, मझियार बांध, पेनस्टॉक और काकी डैम शामिल हैं।

February 18, 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *