MP Current Affair 11th February 2019

युवा स्वाभिमान योजना उच्च-स्तरीय परिचालन समिति का गठन 

राज्य शासन ने युवा स्वाभिमान योजना से संबंधित नीतिगत निर्णय लेने तथा विस्तृत प्रावधानों को उपबंधित एवं संशोधित करने के लिये उच्च-स्तरीय परिचालन समिति का गठन किया है। सचिव श्री एस.आर. मोहंती समिति के अध्‍यक्ष होंगे। परिचालन समिति में आयुक्त नगरीय प्रशासन एवं विकास सदस्य सचिव होंगे। अपर मुख्य सचिव, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, प्रमुख सचिव वित्त, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव, प्रमुख सचिव नगरीय विकास एवं आवास तथा प्रमुख सचिव, तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास को समिति का सदस्य बनाया गया है।

मछुआरों को प्रशिक्षण के दौरान मिलने वाला मानदेय होगा दोगुना

पशुपालन, मछुआ कल्याण और मत्स्य विकास मंत्री श्री लाखन सिंह यादव की अध्यक्षता में मत्स्य महासंघ की कामकाज समिति की बैठक में मत्स्य महासंघ के जलाशयों में कार्य करने वाले मछुआरों को प्रशिक्षण के दौरान मिलने वाले मानदेय को 150 रुपये से बढ़ाकर 300 रुपये प्रति दिन करने का निर्णय लिया गया। इसी प्रकार, प्रशिक्षण के दौरान भोजन,आवास  एवं अन्य व्यवस्थाओं के व्यय को 100 से बढ़ाकर 200 रुपये प्रति दिन प्रति प्रशिक्षणार्थी निर्धारित करने का भी निर्णय लिया गया। बैठक में मत्स्य संघ के अधिकारी-कर्मचारियों को वेतन पुनरीक्षण नियम-2017 में लागू शासन के नियमानुसार गेच्युटी की राशि की अधिकतम सीमा राशि 20 लाख रुपये करने को भी स्वीकृति दी गई।

राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन आरसीव्हीपी नरोन्हा प्रशासन अकादमी में 12 फरवरी को

‘भारतीय संसदीय लोकतंत्र का बदलता स्वरूप” पर एक दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन 12 फरवरी को आरसीव्हीपी नरोन्हा प्रशासन अकादमी में किया जा रहा है। संगोष्ठी का आयोजन पं. कुंजीलाल दुबे राष्ट्रीय संसदीय विद्यापीठ द्वारा किया जा रहा है। जनसम्पर्क, विधि-विधायी, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, विमानन मंत्री श्री पी.सी. शर्मा संगोष्ठी के शुभारंभ पर मुख्य अतिथि होंगे। संगोष्ठी में मध्यप्रदेश सहित विभिन्न राज्यों के विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों के प्राध्यापक, शोधार्थी एवं विद्यार्थी शामिल होंगे।

‘माँ तुझे प्रणाम’ योजना के अंतर्गत प्रदेश की बेटियों का दल बाघा बार्डर के लिये रवाना

‘माँ तुझे प्रणाम” योजना के अंतर्गत प्रदेश की बेटियों का 72 सदस्यीय दल देश की अंतर्राष्ट्रीय सरहद बाघा बार्डर-हुसैनीवाला (पंजाब) की अनुभव यात्रा के लिये रवाना हुआ। यह दल 16 फरवरी, 2019 को वापस भोपाल लौटेगा। ‘माँ तुझे प्रणाम” योजना के माध्यम से अभी तक 11 हजार से अधिक युवाओं को देश की अंतर्राष्ट्रीय सीमाओं की अनुभव यात्रा करवायी जा चुकी है।

प्रो. आशा शुक्ला को महर्षि पाणिनी संस्कृत एवं वैदिक विश्वव़िद्यालय, उज्जैन के कुलपति पद का अतिरिक्त कार्यभार

राज्यपाल एवं कुलाधिपति श्रीमती आनंदीबेन पटेल द्वारा प्रो. आशा शुक्ला को आगामी आदेश तक उनके पदीय दायित्वों के साथ महर्षि पाणिनी संस्कृत एवं वैदिक विश्वव़िद्यालय, उज्जैन के कुलपति पद का अतिरिक्त कार्य सौंपा है। प्रो. आशा शुक्ला डॉ.बी.आर अंबेडकर सामाजिक विज्ञान विश्वविद्यालय, महू की कुलपति हैं। महर्षि पाणिनी संस्कृत एवं वैदिक विश्वविद्यालय, उज्जैन के कुलपति प्रो. रमेश चन्द्र का कार्यकाल 11 फरवरी, 2019 को समाप्त हो रहा है एवं विश्वविद्यालय में नियमित कुलपति की नियुक्ति की प्रक्रिया प्रचलन में है।

February 12, 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *